An Open Letter to Mr. KAPIL SHARMA

0
36

मेरे प्यारे हास्य देवता
आदरणीय श्री कपिल शर्मा
सादर सप्रेम नमस्कार………

दुनिया के करोड़ों लोगों की तरह मैं भी आपका प्रशंसक हूँ । 

आपकी कला प्रतिभा का दीवाना हूँ ।

आपका शुभ चिंतक हूँ।

वर्षों पहले टेलीविज़न पर प्रसारित LAUGHTER CHALLANGE SHOW पर सबसे पहला स्टैंड अप कॉमेडियन के रूप में जो आपने परफॉरमेंस किया था, तब से लेकर अभी कुछ दिनों पहले FAMILY TIME WITH KAPIL SHARMA में आपने अपनी सुंदर अदाकारी की……मैं आपके शो के सभी एपिसोड्स देखता आ रहा हूँ।

आप हिंदुस्तान के सबसे बेहतरीन स्टैंड अप कॉमेडियन है।

आप हिंदुस्तान के सबसे बेहतरीन फिल्म अभिनेता है।

आप हिंदुस्तान के सबसे प्रतिभशाली टेलीविज़न होस्ट हैं।

आपकी मुस्कान बहुत मधुर हैं।

आपकी हाज़िर जवाबी लाजवाब हैं और इसका कोई मुकाबला नहीं हैं।

आप नए कलाकारों के लिए एक प्रेरणा स्तोत्र हैं।

आप अपने आप मे अकेले ही सम्पूर्ण मनोरंजन की गारंटी हैं।

आज आपका जीवन सफल एवं दूसरों के लिए एक उदाहरण है कि सरल सीधा सादा दूर सुदूर रहने वाला कलाकार भी मूम्बई में अपने कलाकारी का लोहा मनवा सकता हैं।

आज आप सफलता के जिस पायदान पर है वहां तक की यात्रा आपने अपने बल पर तय की है, जिसके लिए हम सब दुनिया भर के करोड़ों शुभ चिंतक आपकी तारीफ के पूल बांधते नहीं थकते हैं।

टेलीविज़न शोज के साथ साथ आपने जो दो हिंदी फिल्में ( किस किस को प्यार करूँ एवं फिरंगी ) में अभिनय किया है वो किसी भी स्तर पर हिंदी फिल्म के किसी भी सबसे सफल सुपर स्टार्स के अभिनय के मुकाबले बिल्कुल कमतर नहीं हैं। आपके दोनों फ़िल्म में आपके सर्वोत्तम अभिनय कला की हम जैसे करोड़ों दर्शक आप के हौसले को बढ़ाते हुए आपसे और अधिक फिल्मों में आप के अभिनय को देखने की उम्मीद करते हैं।

कोई कुछ भी बकलोली करें, आपकी दोनों फिल्मे आपके प्रशंसको और शुभ चिंतकों को खूब पसंद आई हैं।

आज आपको यह पत्र लिखने का सिर्फ एक ही कारण है कि ……..

माननीय सम्मानीय श्री कपिल शर्मा जी,

आप बिलकुल वही पुराने वाले कपिल शर्मा हो जाइए और अपनी जिंदगी को बिल्कुल नए ढंग से शुरू कीजिए।

आज कल आप के साथ जो उहापोह वाली परिस्थिति चल रही है, इसे आप अपने खिलाफ एक अज्ञात, अघोषित, अप्रत्यक्ष षड्यंत्र मानते हुए बिल्कुल नए कलेवर के साथ अपनी कला प्रतिभा को, अपनी हास्य व्यंग्य विधा को एक नया आयाम दीजिये।

आप से हाथ जोड़कर प्रार्थना है कि आप बिलकुल शांत मन से, ईश्वर एवं अपनी माँ का आशीर्वाद लेते हुए पूरे तन-मन, आत्मा से अपने नए प्रोजेक्ट पर ध्यान केंद्रित कीजिये,

आपको सफलता अवश्य मिलेगी क्यों कि ईश्वर ने आपको अपार, अप्रतिम सफलता देने के लिए ही यह अनमोल जीवन प्रदान किया हैं।

आप अपने आप को समझिए, अपने आपको समझाइए,

अपने आपको बेहतरीन से भी बेहतरीन सोच की तरफ प्रेरित कीजिये………

और आप ऐसा कर सकते है क्योंकि जब आप कुछ भी नहीं थे तब आपने यह कर दिखाया था, आज तो आप बहुत कुछ है।

ईश्वर ने आज की तारीख में आपको इतना सशक्त और सक्षम बना दिया है कि आप अपनी जिंदगी की सबसे बड़ी महत्वाकांक्षा पूरी कर सकते है।

आपके निंदक कितने भी कुटिल और घाती हो जाये वो आपका कुछ भी नहीं बिगाड़ सकते क्योंकि हम जैसे करोड़ों शुभ चिंतकों की प्रार्थनाएं, दुआएं आपके साथ हैं।

भविष्य में इतिहास गवाह होगा कि आप ने विकट परिस्थितियों में भी बहुत बड़ा संकल्प पूरा कर के एक नया इतिहास रच दिया………..बशर्ते आप अपने खुद के बनाये दलदल से अपने आपको निकालिए।

आप यह मानकर चलिए की कुछ मुट्ठी भर लोग आपकी सफलता से खूब जले भुने हुए है और जब जब आप अपना आपा खोते है तब आप अपने ईर्ष्यालु मित्रों की इच्छा पूरी कर रहे होते है जिन्होंने गाहे बगाहे आपकी पीठ में छुरा घोपने का काम बहुत खूबसूरती से किया हैं।

आपको उन सब की इच्छाओं पर तुषारापात करते हुए अपनी सफलता के परचम को एक बार फिर से मनोरंजन के आसमान में फहराना है ताकि दूर क्षितिज से भी कोई आपको देखना चाहे तो आपके चेहरे की मधुर मुस्कान, आपके आंखों की चमक और आपकी मिठास भरी बोली उसके मन आत्मा को तृप्त कर सकें।

आप को हार्दिक शुभकामनाएं एवं बहुत सारा प्यार भरा आशीर्वाद

आप एक बार फिर जम कर अपने नाम और काम के पुरुषार्थ को सफल करें।

आपका प्रशंसक/शुभचिंतक
राजेश दुबेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here